Skip to toolbar

भगवान को पाने के लिए किसी मंदिर की जरूरत नहीं है…[Audio]

Spread the love

भगवान को पाने के लिए किसी मंदिर की जरूरत नहीं है रामायण में कहा है निर्मल मन जन सो मोहि पावा मोहि कपट छल छिद्र न भावा अर्थात कोमल और सच्चे मन से याद करो तो भगवान वही तुम्हारे पास है आंखें बंद करो और निहार लो

krishna.jpg

2 thoughts on “भगवान को पाने के लिए किसी मंदिर की जरूरत नहीं है…[Audio]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *